About Us

वैदिक आध्यात्मिक वांग्मयी ज्ञान की गंगा श्राप ताप पाप से मुक्ति की रसमयी ईश्वरी श्री मद भागवत कथा की प्रखर वक्ता व्यास परंपरा की सचेतक सुश्री राज राजेश्वरी का जन्म 15 सितंबर 1991 को विजयराघवगढ़ जिला-कटनी में हुआ | आपके पिता का नाम पुरुषोत्तम, माता का नाम श्री मती माया देवी | उन्हें इस मेघवी संतान पर गर्व है |आपके शिक्षा गुरु विश्व भागवत भास्कर श्री कृष्ण चंद्र शास्त्री एवं सद्गुरु श्री श्री 1008 श्री स्वामी इंदिरारमण जी महाराज जीयर मठ पुरी है |
     आपके कार्यक्रम ईटीवी, दूरदर्शन भोपाल, सहारा समय, संस्कार चैनल में प्रसारित हो चुके है | आपकी कथा शैली इतनी सरल और सरस है कि सभी श्रोता भरपूर आनंद लेते हैं | आपकी विशाल कथा देल्ही, इंदौर, उज्जैन, पनागर, कैमोर में हो चुकी है|

Our Story

Our Gallary

No one rejects, dislikes, or avoids pleasure itself, because it is pleasure, but because those who do not know how to pursue pleasure rationally encounter consequences that are extremely painful.

Contact Us

Get in Touch

--> -->